swatantra astitva
सोशल ईविल, beauty, humble ,kind and polite, life, Society

“स्त्री ,जो समस्त संसार का आधार है ! स्वयं निराधार कैसे हो सकती है?”

संसार में नारी को निसहाय निर्बल व अबला समझने वालों की कोई कमी नहीं है !नारी अबला नहीं है ,न हीं वह बेचारी है वह तो षड़यंत्र की मारी है! नारी को अबला प्रचारित या घोषित करना इस छदम पुरुषप्रधान समाज का एक दुस्साहस प्रयास मात्र है !प्रेम, मोह- माया व संबंधों के प्रति समर्पण ममता व करुणा के वशीभूत होकर उसने स्वयं ही अपनी प्रगति को बाधित किया है जो कि उसकी कोमल भावनाओं का प्रतीक है उसकी कोमलता से उसकी कमजोरी का अनुमान लगाना पूर्णतःअनुचित है !

महिलाओं के संदर्भ में इस गीत की पंक्तियाँ बहुत सटीक बैठती हैं
कोमल है कमज़ोर नहीं तू !
शक्ति का नाम ही नारी है !!
Advertisements

21 विचार ““स्त्री ,जो समस्त संसार का आधार है ! स्वयं निराधार कैसे हो सकती है?”&rdquo पर;

  1. कोमल है कमज़ोर नहीं तू !
    क्यूँ अबला बन रोती है,
    ऐ नारी तुम शक्तिशाली,
    क्यों हिम्मत को खोती है।
    दुर्गा,काली,अनसुईया तुम,
    सावित्री पहचान तेरा,

    बेहतरीन रचना। नारी तूँ कमजोर नही है।

    Liked by 1 व्यक्ति

  2. नारी स्वयं भी पुरुष बनने में कमजोर हो रही है जो है उसे ही नहीं मान रही है तू अबला नहीं सबला है वीर पुरुषों की जननी है तू नारी है सृष्टि का आधार है।

    Liked by 1 व्यक्ति

    1. व्यक्ति उच्च विचारों से उच्च होता है धर्म ,वंश, लिंग या जाती से नहीं !सृष्टि में सबका एक निर्धारित स्थान है यदि सब अपनी मर्यादा में रहना सीखले तो समाज में संतुलन बना रह सकता है !
      बिलकुल ,सृष्टि में नारी का स्थान उच्च है और सदैव रहेगा यह भी सत्य है की कुछ स्त्रियों ने स्वतंत्रता का दुरूपयोग कर न केवल स्वतंत्रता के मूल अर्थों को ही खो दिया अपितु संपूर्ण नारी जाती को संदेह के क्षेत्र में लाकर खड़ा कर दिया है ईश्वर सद्बुद्धि दे !

      Liked by 1 व्यक्ति

    1. और कुछ स्त्रियों की भूल की सजा सबको भुगतनी पड़ी कुछ पशाताप में जल गयीं और कुछ गलत रास्ते पर चल गयीं !यधपि दोष स्त्री का ही था पर नारी की इस स्थिति के लिए पुरुष वर्ग भी कम उत्तरदायी नहीं रहा !

      पसंद करें

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.